Multai: क्षेत्र में फैली मृतक युवती के जिंदा होने की अफवाह, मृत्यु शैया से उठाकर डॉक्टर से कराई जाच

0
1026

डॉक्टर ने कहा लेट हो गए अब हो गई हो मौत

मुलताई- निकटतम ग्राम ताईखेड़ा मोक्षधाम मे एक अजीबोगरीब आश्चर्य जनक घटना सामने आई है, राय आमला निवासी युवती को मृत समझकर अंतिम संस्कार के लिए पहुंचे ग्रामीणों के आश्चर्य का उस वक्त ठिकाना नहीं रहा।

जब उन्हें बताया गया कि युवती जीवित है। कुछ लोगों ने बताया कि सैया पर अचानक हलचल हुई जिसके बाद संपूर्ण क्षेत्र में यह अफवाह फैल गई कि मृत्यु के बाद लड़की जीवित हो गई। मृत्यु सैयां से उठाकर युवती को मुलताई निजी अस्पताल लाया गया जहां डॉक्टरों ने कहा लेट हो गए अब लड़की की मृत्यु हो गई है।

मामला निकटतम ग्राम रायआमला का है। जहां सुबह 21 वर्षीय लड़की की बीमारी के चलते मौत होने की खबर ग्रामीणों को मिली। युवती के परिजन एवं ग्रामीण युवती के अंतिम संस्कार करने के लिए ताप्ती तट ताईखेड़ा मोक्षधाम पहुंचे, अभी युवती के शव को मृत्यु सैया पर लिटाया ही था कि अचानक अंतिम संस्कार करने पहुंचे लोगों के आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा। कुछ लोगों का कहना था कि लड़की की नब्ज चल रही है शरीर भी गर्म है लड़की जिंदा है।

राय आमला निवासी धनराज लिखितकर ने बताया कि 21 कृष्ण कुमार राजगुरु की 21 वर्षीय पुत्री पूजा की सुबह मौत होने की खबर मिली थी जिस के शव का अंतिम संस्कार करने के लिए मैं भी मोक्ष धाम ताप्ती तट ताईखेड़ा पहुंचा था। अचानक कुछ लोगो ने कहा की लड़की जिंदा है क्योंकि शरीर अभी गर्म है। ग्रामीणों की सलाह के बाद युवती के शव को मुलताई लाया गया जिसे डॉक्टर ने बताया कि लड़की की मौत हो गई है। इसके बाद उन्होंने लड़की को ताईखेड़ा मोक्ष धाम ले जाकर पुनः विधि विधान के साथ शव का अंतिम संस्कार किया गया।

छोटी बहन आरती ने किया पूजा राजगुरु का अंतिम संस्कार-

डॉक्टरों से जांच कराने के बाद ग्रामीण पूजा का शव लेकर वापस ताप्ती तट ताईखेड़ा पहुंचे जहां विधि विधान के साथ शव का अंतिम संस्कार किया गया। पूजा को मुखाग्नि उसकी छोटी बहन आरती राजगुरु 17 वर्ष ने दी क्योंकि कृष्ण कुमार राजगुरु की दो ही पुत्रियां थी पूजा बड़ी पुत्री थी और और छोटी आरती बड़ी पुत्री पूजा, बेंगलुरु में कंपनी में कार्य करती थी और बीमारी के चलते बीते 2 माह से वह अपने निवास राय आमला आई हुई थी। परिजनों के अनुसार उसका टाइफाइड का इलाज बैतूल में किया जा रहा था जिसे आज बैतूल से राय आमला लाया गया था।

पूरे क्षेत्र में फैली मरकर जिंदा होने की खबर-

लगभग 4 घंटे तक पूजा का अंतिम संस्कार नहीं हो पाया। पूजा के शव को दो बार श्मशान घाट ले जाया गया। ऐसे मे क्षेत्र में खबर फैल गई की मरने के बाद। युवती फिर से जिंदा हो गई है।ग्रामीणों का कहना है कि मुखाग्नि रोक दी गई थी एवं तसल्ली होने के बाद ही पूजा का अंतिम संस्कार करवाया गया है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here