हवाई पट्टी बनी शराबियों का अड्डा शाम होते ही छलकने लगते हैं जाम

0
377

रोहित दुबे

आमला- रेलवे कॉलोनी स्थित हवाई पट्टी पर शाम ढलते ही असामाजिक तत्व शराब पीने के लिए बैठ जाते हैं। आश्चर्य की बात यह है कि पुलिस गश्त करती है लेकिन इन शराबियों को देख नहीं पाती है। यह शराबी झुंड बनाकर बड़े निश्चिंत होकर शराब पीते हैं और शराब की कांच की बोतल प्लास्टिक का कचरा खाली गिलास छोड़कर यही चले जाते हैं।

नगर पालिका परिषद ने यहां मॉर्निंग वॉक इवनिंग वॉक करने वालों के लिए बेंच लगाई है। इसके आसपास भी शराब की खाली बोतल खाली गिलास प्लास्टिक का कचरा जमा हो जाता है। स्पष्ट है कि शाम ढलते ही शराब पीने वाले व्यक्तियो को जमावड़ा हवाई पट्टी रेलवे कॉलोनी में लग जाता है।

रेलवे स्टेडियम के पीछे भी गांजा पीने वाले का अड्डा देखा जा सकता है। युवा पीढ़ी के अधिकांश बच्चे यहां नशा करते देखे जा सकते हैं। शाम को महिलाएं घूमने आती हैं इन शराबियों से कभी भी कोई अनहोनी होने की संभावनाओं से इनकार नहीं किया जा सकता है। वकील राजेंद्र उपाध्याय ने सोशल मीडिया के माध्यम से वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों को इसकी सूचना देकर इस पर रोक लगाने की मांग की है। हवाई पट्टी पर घूमने वाले डॉक्टर पंकज ठक्कर गुफरान खान, पी के खरे, यशवंत झरबड़े, दिलीप चौकीकर, रामदास चौकीकर, दिलीप सोनी, दिलीप हाथिया, ए के पाल, रामकिशोर यादव, विमल मदान, राजू मदान, तोप सिंह सोलंकी, वकील शिवपाल उबनारे, कल्पेश कुमार मथनकर, हरिशंकर पाल, रानी शेख, देवेंद्र सिंह राजपूत ने हवाई पट्टी पर पुलिस गश्त बढ़ाने की मांग की है। इनका कहना है मशहूर वकील आरके देशमुख ने बताया सार्वजनिक स्थान पर खुले में शराब पीना गैरकानूनी है। इसके खिलाफ पुलिस को अपराध पंजीबद्ध करके रोक लगानी चाहिए। स्टेशन सलाहकार समिति के सदस्य यशवंत चड़ोकर कुनबी समाज के अध्यक्ष हेमंत देशमुख ने शासन को ज्ञापन देकर एवं आरपीएफ थानाप्रभारी से मिलकर समस्या के निदान के लिए आवश्यक कार्यवाही करने की बात कही है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here