मानव और प्रकृति का गहरा नाता है: मुकेश खंडेलवाल, पर्यावरण दिवस पर आयोजित हुए विभिन्न कार्यक्रम

0
998

दिलीप पाल

आमला- मानव और प्रकृति का गहरा नाता है। जहां प्रकृति है, वहां जीवन है और जब इसी प्रकृति को क्षति पहुंचती है तो जीवन पर भी असर पड़ता है। यह बाते समाजसेवी मुकेश खंडेलवाल ने आमला में विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में व्यक्त किये।

उपाध्याय परिवार द्वारा  माता श्रीमती लीलाबाई उपाध्याय, कृष्ण उपाध्याय एवं अल्पेश उपाध्याय  की स्मृति में आमला के प्लेटफार्म क्रमांक 5 पर ठंडे पानी की मशीन का लोकार्पण किया। आमला के झोलाधारी स्वच्छ आमला हमारी जिम्मेदारी मुहिम और कपडे की थैली का वितरण किया।

कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि मुकेश खंडेलवाल,अभिषेक गुप्ता एडीईंएन मध्य रेल आमला और विशिष्ट अतिथियों में हेमंतचन्द्र दुबे समाजसेवी बैतूल, मनजीत सिंह साहनी व्यवसायी बैतूल, नितिन गाडरे नगरपालिका अध्यक्ष आमला, इरशाद हिंदुस्तानी पत्रकार, बैतूल केंद्रीय विद्यालय के प्राचार्य राजकुमार विश्वकर्मा, नीरज श्रीवास्तव मुख्य नगरपालिका अधिकारी, वीके पालीवाल स्टेशन प्रबंधक आमला, राजेश बनकर आरपीएफ थाना प्रभारी आमला, ओमवती विश्वकर्मा पार्षद सहित अन्य अतिथिगण उपस्थित थे।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए अभिषेक गुप्ता एडीईएन रेलवे आमला ने कहा कि आने वाला कल यदि अच्छा चाहते हो तो हमे आज पर्यावरण के प्रति सचेत होना पड़ेगा। बबलू दुबे प्लास्टिक से होने वाली क्षति के संबंध में विस्तृत रूप से बताया उन्होंने बताया कि कैसे हम प्रकृति का दोहन कर प्रकृति को नुकसान पहुंचा रहे हैं। प्लास्टिक का उपयोग हमारी जीवन शैली को धीरे धीरे छतिग्रस्त करता है प्लास्टिक विनाश का सबसे बड़ा कारण है। इस पर रोक लगानी चाहिए। पत्रकार इरशाद हिंदुस्तानी ने वैश्विक दृष्टि में होने वाले बदलाव,पर्यावरण के प्रति सचेत न होकर प्रकृति को विनाश की ओर ले जाना, प्लास्टिक  प्रत्यक्ष तंत्र को कैसे नुकसान करता है इस पर विस्तृत रूप से व्याख्यान दिए।

हाल ही में पर्यावरण संरक्षण की दिशा में सचेत करने के लिये इन्होंने न्यायालय की भी शरण ली जिसके सार्थक परिणाम सामने आए। वीके पालीवाल ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण हमारी महती जवाबदारी है। सभी को स्वच्छता की शपथ भी दिलवाई गई। कार्यक्रम में पर्यावरण जागरूकता में श्रेष्ठ कार्य करने वाले गायत्री परिवार को उनके वृक्ष गंगा अभियान के लिये सम्मानित किया गया। प्लास्टिक मुक्त अभियान 75 दिन 75 कदम के लिये हेमंत चन्द्र दुबे का सम्मान किया गया। पक्षियों के लिये दानपानी पर्यावरण के क्षेत्र में विशिष्ट कार्य करने लिये अपनी महती भूमिका निभाने वाले रोहित दुबे एवं दिलीप पाल को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के प्रारंभ में बालासोर में हुए ट्रेन एक्सीडेंट में मृत यात्रियों को मोमबत्ती जलाकर और मौन धारण कर श्रद्धांजलि अर्पित की। कार्यक्रम को सफल बनाने में सुरेंद्र यादव, दिलीप चौकीकर,अशोक पाल,शिवम उपाध्याय  का सहयोग रहा कार्यक्रम का संचालन मनोज विश्वकर्मा ने किया और आभार राजेन्द्र उपाध्याय ने किया।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here