नए मोटर व्हीकल एक्ट के जुर्माना प्रस्ताव लागू ,वाहन चलाते फोन पर बात करने पर  होगा 3 हजार जुर्माना,

0

अब प्रदेश में नए मोटर व्हीकल एक्ट के जुर्माना प्रस्ताव लागू होने के बाद  नियमों का उल्लंघन करने पर 25 हजार  तक का जुर्माना हो सकता है।
मध्य प्रदेश हाई कोर्ट में उक्त आशय की याचिका 2019 से पेंडिंग चल रही थी। जिसमें कई बार नोटिस भी जारी किए गए थे। अब जाकर सरकार ने 2023 में गजट नोटिफिकेशन जारी किया है, जिसके मुताबिक सेंट्रल गवर्नमेंट के द्वारा जो मोटर व्हीकल एक्ट के अपराधों पर जुर्माने की राशि तय की गई है अब वह राशि मध्य प्रदेश में भी लागू होगी। नोटिफिकेशन में कहा गया है कि हम केंद्र सरकार ने जो भी मोटर व्हीकल एक्ट में संशोधन किए गए हैं उन्हें स्वीकार करते हैं और संपूर्ण मध्य प्रदेश में इसका कड़ाई से पालन कराया जाएगा।

  • सीट बेल्ट के बिना 500 रूपए
  • बिना लाइसेंस 1000 रूपए
  • हेलमेट के बिना 300 रूपए
  • इंश्योरेंस के बिना 2000 रूपए
  • ओवरस्पीडिंग पर 1000 – 3000 रूपए
  • ड्राइविंग के दौरान फ़ोन पर बात करते समय 3000 रूपए
  • इमरजेंसी वहां का रास्ता रोकने पर 10000 रूपए
  • वायु और ध्वनि प्रदूषण पर 10000 रूपए
  • अनफिट छोटे वाहन पर 5000 और बड़े वाहन पर 10000 रूपए
  • प्रतिबंधित इलाकों में हॉर्न बजाने पर 2000 रूपए

आपातकालीन वाहन जैसे एंबुलेंस फायर ब्रिगेड आदि का  रास्ता रोकने पर  10 हजार रुपए जुर्माना होगा। नाबालिक के दुर्घटना करने पर 25 हजार का जुर्माना होगा। राज्य सरकार ने इस संबंध में जारी अधिसूचना हाईकोर्ट में पेश की। इसे रिकॉर्ड में लेकर मप्र हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रवि मलिमठ व जस्टिस विशाल मिश्रा की युगलपीठ ने याचिका का निराकरण कर दिया गया। याचिकाकर्ता नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच के प्रांताध्यक्ष डॉ. पीजी नाजपांडे ने बताया, संशोधित नियम को स्वीकार करते हुए राज्य शासन ने अधिसूचना जारी कर दी है। मोटरयान अधिनियम के तहत केंद्र सरकार के जारी नियमों का पालन राज्य सरकार नहीं कर रही थी।.

——————————————————————————————-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here