ऋषि पंचमी पर ताप्ती तट पर उमड़ा श्रद्धा का सैलाब,ताप्ती स्नान कर किया ऋषि पंचमी उपवास का समापन

0
211

मुलताई-ऋषि पंचमी के अवसर पर बड़ी संख्या में महिलाओं ने ताप्ती तट पहुंचकर, स्नान ध्यान कर ,ऋषि पंचमी व्रत का समापन किया, साथ ही यज्ञ हवन में भाग लिया,

ऋषि पंचमी के अवसर पर सुबह से ही ताप्ती तट पर पहुंचने वाले श्रद्धालुओं का तांता लगना प्रारंभ हो गया था जिसमें महिलाओं की संख्या अधिक थी। इसे देखते हुए नगर प्रशासन द्वारा ताप्ती तट पर सुरक्षा व्यवस्था के अनेक इंतजाम किए गए थे, ताप्ती तट पर भीड़ ना हो इसको लेकर परिक्रमा क्षेत्र में दोनों ओर बेरिकेटिंग की गई थी, जिस पर पुलिस सहित नगर पालिका के कर्मचारियों को तैनात किया गया था। ऋषि पंचमी के संदर्भ में पंडित गणेश त्रिवेदी बताते हैं कि ,ऋषिपंचमी का त्यौहार हिन्दू पंचांग के भाद्रपद महीने में शुक्ल पक्ष पंचमी को मनाया जाता है।यह त्यौहार गणेश चतुर्थी के अगले दिन होता है। इस त्यौहार में सप्त ऋषियों के प्रति श्रद्धा भाव व्यक्त किया जाता है। और जीवन में हुई गलतियों की क्षमा याचना की जाती है।

ऋषि पंचमी के अवसर पर पवित्र नदियों में स्नान को अत्यंत पुण्य कर्म माना जाता है। यही कारण है कि प्रतिवर्ष ताप्ती तट पर अनेक जिलों से ऋषि पंचमी पर महिलाएं पहुंचती है ,विशेष तौर से महाराष्ट्र से बड़ी संख्या में महिलाएं ताप्ती तट आती है। इस वर्ष ऋषि पंचमी के अवसर पर अनेक मंदिरों में हवन पूजन का आयोजन किया गया गजानन मंदिर में निशुल्क चाय वितरण की गई, लक्ष्मी नारायण मंदिर में पंडित गणेश त्रिवेदी ने ऋषि पंचमी का व्रत संपन्न कराया एवं हवन पूजन की विधि पूर्ण कराई।, ताप्ती सरोवर के मध्य बने सप्त ऋषि टापू पर ,गायत्री परिवार द्वारा हवन पूजन किया गया।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here