कूलर, खुले टांके, गमलों में जमा पानी हो सकता है खतरनाक,राष्ट्रीय डेंगू दिवस पर आशाओ को बताएं डेंगू से बचाव के उपाय

मुलताई -सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में राष्ट्रीय डेंगू दिवस मनाया गया जिसमें आशा कार्यकर्ताओं को डेंगू से बचाव के उपाय के संदर्भ में विस्तार से जानकारी दी गई। एम.जे दिवाकर किनकर, बीसीएम  ने जानकारी देते हुए बताया कि 10 मई 2022 से 23 मई 2022 तक डेंगू पर पखवाड़ा मनाया जा रहा है। आज डेंगू दिवस के उपलक्ष में आशा कार्यकर्ता एवं समस्त स्टाफ को डॉक्टर नागवंशी द्वारा डेंगू के लक्षण एवं बचाव के बारे में बताया गया। दिवाकर द्वारा डेंगू फैलने वाले मच्छरों के लारवा को नष्ट करने तथा लारवा पर अंकुश लगाने के उपाय बताकर ….

This image has an empty alt attribute; its file name is hum0253.jpg

मच्छरों की उत्पत्ति पर रोक लगाने के बारे में जानकारी दी गई है, साथ ही घरों में संग्रहित जमा पानी को  हटाने खाली कर नया पानी भरने एवं टांके-टंकी को ढक कर रखने की सलाह दी गई। इस अवसर पर तेजकरण साबले,  हरीष सोनकुसले भी उपस्थित थे। इस कार्यक्रम में बताया गया है कि डेंगू मच्छर का सबसे अधिक लारवा कूलर के पानी में खुले टांके टंकी में, गमलों में बेकार पानी, छत पर पड़े टायर में तथा प्लास्टिक के खुले पैकेट में होती है, जिससे खाली करने के लिए कहा गया तथा गर्मी में जन जागृति व इसका प्रचार-प्रसार के संबंध में स्वास्थ्य कर्मियों को जानकारी दी गई।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here