3 दिन बाद फिर बदलेगा मौसम, जिले में कही बूदाबादी,कही लू अलर्ट, वही मध्यप्रदेश में 10 जून तक कर सकता है मानसून प्रवेश

भोपाल -16 मई के मध्य प्रदेश में मौसम फिर बदलने वाला है। एमपी मौसम विभाग ने  13 मई को 29 जिलों में यलो अलर्ट जारी किया है। वहीं 3 जिलों में गरज के साथ बूंदाबांदी की संभावना जताई है। एमपी मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी आए असानी तूफान आंध्रप्रदेश तट से टकराने के बाद कम दबाव के क्षेत्र में बदल गया है। बंगाल की खाड़ी से मध्य प्रदेश तक एक ट्रफ लाइन बनी हुई है और नमी आ रही है। आज ग्वालियर में हल्के बादल छाएंगे।

वही पिछले 24 घंटे में राजगढ़ और खरगोन में 46 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया है। एक तरफ जहां दतिया,गुना, धार, राजगढ़, खरगोन, खंडवा और रतलाम में लू का असर है। वहीं दूसरी तरफ मंडला और बालाघाट में हल्की बारिश हुई। शुक्रवार को भोपाल रायसेन, अशोक नगर, रीवा, पन्ना, सतना, सिंधी, शिवपुरी, दतिया, सागर, टीकमगढ़, दमोह, छतरपुर, आगरा, रतलाम, राजगढ़, खंडवा, खरगोन, बड़वानी, नीमच, मंदसौर, भिंड, मुरैना में लू का अलर्ट जारी किया गया है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार अंडमान निकोबार दीप समूह में 15 मई को मानसून की पहली बारिश की संभावना है यदि ऐसा हुआ तो समय से पहले 26 मई तक मानसून केरल के तट पर पहुंच जाएगा। वही मध्य प्रदेश में मानसून की तारीख 1 जून से 30 सितंबर तक होती है। अलग-अलग जिलों में अलग-अलग तारीख पर मानसून पहुंचता है। लेकिन 15 जून को मध्य प्रदेश में मानसून का प्रवेश माना जाता है। इसी दिन मानसून की पहली बारिश होती है इस साल केरल के तट पर चार-पांच दिन पहले मानसून के पहुंचने की संभावना है। मध्यप्रदेश में 4-5 दिन पहले मानसून आ सकता है। यानी मानसून की पहली बारिश 10 जून को हो सकती है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here