नहीं हुआ नगरपालिका का दैनिक एवं साप्ताहिक बाजार का ठेका,नपा कार्यप्रणाली के चलते ठेकेदारों ने किया किनारा

मुलताई- नगर पालिका की कार्यप्रणाली के चलते दैनिक एवं साप्ताहिक बाजार ठेका नीलामी नहीं हो सकी अब दैनिक साप्ताहिक बाजार की वसूली नगरपालिका करेगी और जानकारों की माने तो इस वर्ष दोनों ठेकों से नगरपालिका को लगभग 20 लाख से अधिक रुपए की हानि होगी।

इस बार नगर पालिका द्वारा ठेकेदारों ने ठेके की समय सीमा बढ़ाए जाने के बाद भी ठेका लेने में रुचि नहीं दिखाई जिसका कारण बताते हुए ठेकेदार कहते हैं कि पूर्व में नगर पालिका ने आनन-फानन में जिस प्रकार मामूली शिकायत पर ठेका निरस्त कर दिया और जिस प्रकार ठेके की शर्तें एवं वसूली राशि ठेकेदार के लिए अलग और नगरपालिका के लिए अलग है  उससे नगरपालिका की मंशा पर संदेह  उत्पन्न होता है। इस स्थिति में कोई भी ठेकेदार लाखों रुपए ठेका प्रक्रिया में दांव पर लगाना नहीं चाहेगा।  अब ऑनलाइन टेंडर प्रक्रिया की समय सीमा समाप्त होने के बाद दैनिक एवं सप्ताहिक बाजार की वसूली नगर पालिका करेगी जिससे नगर पालिका को 20 लाख रुपए से अधिक की हानि होने का अनुमान है। नगर के साप्ताहिक एवं दैनिक बाजार की समय सीमा पूर्व में 31 मार्च रखी गई थी ठेका ना होने पर समय सीमा बढ़ाकर 15 अप्रैल कर दी गई थी किंतु फिर भी कोई ठेकेदार नहीं आया।

ठेका प्रक्रिया को लेकर दोहरे मापदंड अपना रही नगरपालिका

नगर पालिका पूर्व ठेकेदार बाबा कडुकार, नितेश राजेंद्र सोनी, अजय वाजीयर, सूरज रवि उदासी बताते हैं कि नगर पालिका की मनसा ठेका देना नहीं बल्कि औपचारिकता निभाना है इसलिए ठेकेदार के लिए अलग एवं नगरपालिका कर्मचारियों के लिए ठेका वसूली के राशी अलग है। नगर पालिका के कर्मचारी जिस दैनिक बाजार से 10 और 20 रुपए वसूल रहे हैं ठेकेदार के लिए नियम  हैं कि 5 रुपए से अधिक राशि प्रति दुकान से वसूल ना करें और 13 लाख रुपए नगर पालिका में दैनिक बाजार की राशि जमा करें। पिछले दिनों नगर पालिका अधिकारी नितिन कुमार बिजवे  ने बताया था कि नगरपालिका अपने कर्मचारियों के माध्यम से प्रतिदिन एवरेज 3122 रुपए की बाजार वसूली करा रही है इस प्रकार नगर पालिका को दैनिक एवं सप्ताहिक बाजार से 1123920 रुपए की आय होगी  नगर पालिका साप्ताहिक बाजार का ठेका 21 लाख में एवं दैनिक बाजार का ठेका 11 माह का  13 लाख में देती रही है इस प्रकार नगर पालिका को बाजार वसूली से प्रतिवर्ष लगभग 35 लाख रुपए की आय होती रही है किंतु नगर पालिका को इस वर्ष 35 लाख की तुलना में मात्र 11 लाख में संतोष करना पड़ेगा इस नुकसान के लिए जवाब दे कौन इसकी जांच की जानी चाहिए।

दैनिक बाजार से 5 रुपए से अधिक नहीं वसूल सकेंगे ठेकेदार

वर्तमान समय में नगर पालिका कर्मचारी जिस दैनिक सब्जी व्यापारियों से प्रतिदिन 10 रुपए वसूल रहे है वही ठेकेदारों के लिए यह शर्त है कि दैनिक सप्ताहिक बाजार से 5 रुपए से अधिक राशि ना वसूली जाए। ऑनलाइन टेंडर प्रक्रिया में दैनिक बाजार से की जाने वाली वसूली की दर इस प्रकार है। साप्ताहिक बाजार को छोड़कर प्रत्येक गुमठीधारी एवं दुकानदारों को प्रतिदिन 5×5 तक की दुकान का बाजार महसूल 3.00 रूपये देय होंगा। 5×8 की दुकान का4 रूपयें एवं 5×10 की दुकान का 5 रूपयें देय होंगा । सर्वसम्मपति से पारित ।
हमने उक्त संबंध में चर्चा हेतु मुख्य नगरपालिका अधिकारी नितिन कुमार बिजवे से बात करने हेतु उनके फोन क्रमांक 83 192 88709 कॉल की किंतु उन्होंने कॉल का जवाब नहीं दिया।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here