नगर पालिका को नहीं मिल रहे  बाजार ठेकेदार ,बाजार वसूली से इस वर्ष लगेगी लाखों की चपत

  • मुलताई- नगर पालिका में पूर्व परिषद कार्यकाल में जहां दैनिक एवं सप्ताहिक बाजार ठेका लेने वालों मे होड़ लगी रहती थी वही वर्तमान समय में नगरपालिका को साप्ताहिक बाजार और दैनिक बाजार के ठेकेदार नहीं मिल रहे हैं जोकि आश्चर्य का विषय है और इस आश्चर्य का भुगतान नगर पालिका को लाखों रुपए की चपत लगाकर भुगतना पड़ेगा।

और नगरपालिका अपने कर्मचारियों के माध्यम से प्रतिदिन एवरेज 3122 रुपए की बाजार वसूली करा रही है इस प्रकार नगर पालिका को दैनिक एवं सप्ताहिक बाजार से 1123920 रुपए की आय होगी जोकि ठेके की तुलना में बहुत ही कम है पूर्व में नगर पालिका साप्ताहिक बाजार का ठेका 21 लाख में एवं दैनिक बाजार का ठेका 11 माह का  13 लाख में देती रही है इस प्रकार नगर पालिका को बाजार वसूली से प्रतिवर्ष लगभग 35 लाख रुपए की आय होती रही है किंतु नगर पालिका को इस वर्ष 35 लाख की तुलना में मात्र 11 लाख में संतोष करना पड़ेगा और इसमें अगर लगने वाले कर्मचारियों की तनख्वाह निकाल ली जाए तो यह नुकसान और अधिक होगा। संपूर्ण मामले में महत्वपूर्ण तथ्य यह है कि एक और

This image has an empty alt attribute; its file name is BTL-9-3-22-341.jpg

नगरपालिका को जहां पूर्व में ही साप्ताहिक बाजार का ठेकेदार नहीं मिल रहा था वही एक शिकायत पर आनन-फानन में दैनिक बाजार का ठेका निरस्त कर दिया गया शिकायत मिलने पर की गई कार्रवाई आवश्यक थी  किंतु ठेका निरस्त करने में नगर पालिका की जल्दबाजी जन चर्चा का विषय है। क्या इस शिकायत का एकमात्र हल ठेका निरस्त कर ठेकेदार को ब्लैक लिस्टेड करने से ही हो सकता था। अब ठेकेदार उक्त मामले को लेकर हाई कोर्ट पहुंचा है अगर ठेकेदार जीतता है तो क्षतिपूर्ति के रूप में 13 लाख रुपए की जपत नगरपालिका को और लग सकती है।

एक और जहां नगर पालिका चंद पैसे के लिए नागरिकों के नल काट  रही है। समय पर कर जमा ना करने वालों की संपत्ति कुर्क की जा रही है। दुकानों का किराया ना जमा करने वालों के दुकानों को सील किया जा रहा है। जानकारों का मानना है कि जीस एवरेज में नगरपालिका अपने कर्मचारियों से वसूली करा रही है उसे आधार माना जाए तो सप्ताहिक बाजार दैनिक बाजार बस स्टैंड सेवा शुल्क तीनों ठेकों में नगरपालिका को 30 लाख रुपए से अधिक का नुकसान हो सकता है। बड़ा प्रश्न यह इसके लिए जवाबदेह कौन।

ठेका वसूली का कार्य सामान्यता नगर पालिका में राजस्व निरीक्षक की देखरेख में होता है वर्तमान समय में प्रभारी राजस्व निरीक्षक संतोष शिवहरे है हमने जब संतोष  से बाजार ठेके के संबंध में पूछा तो उनका कहना था कि बड़े बाबू जीआर देशमुख वसूली का कार्य देख रहे हैं किंतु जब हमने देशमुख से इस संबंध में पूछा तो उनका जवाब था हमारा कोई लेना देना नहीं है उक्त मामले में जब हमने मुख्य नगरपालिका अधिकारी से चर्चा की तो उन्होंने कहा कि वह शीघ्र आदेश करेंगे जिसके बाद यह समस्या समाप्त हो जाएगी। हालांकि नितिन कुमार बिजवे  बीते कुछ वर्षों में ऐसे पहले मुख्य नगरपालिका अधिकारी है जिनके कार्यकाल में ऐतिहासिक करों की वसूली हो रही है  किंतु कर वसूली के तरीकों और वसूली में मानवीय संवेदनाओं की अनदेखी के चलते उनकी कार्यप्रणाली पर सवाल भी उठ रहे हैं।

इनका कहना

नगर पालिका और ठेकेदार की वसूली की तुलना नहीं की जा सकती, वर्तमान समय में बाजार वसूली से प्रतिदिन 3122 रुपए की वसूली हो रही है। नगरपालिका ठेके निकाल भी रही है तो ठेकेदार नहीं मिल रहे हैं शीघ्र ही ठेका प्रक्रिया पूर्ण की जाएगी।

नितिन कुमार बिजवे
मुख्य नगरपालिका अधिकारी मुलताई


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here