भोपाल -उज्जैन के विश्व प्रसिद्ध महाकाल मंदिर में  महाशिवरात्रि को लेकर होने वाली तैयारियां लगभग पूर्ण हो चुकी है 2 साल के कोरोना प्रतिबंधों के बाद इस वर्ष भोलेनाथ के दर्शनों के लिए उमड़ने वाले जन सैलाब को देखते हुए, प्रशासन भी सतर्क है इस वर्ष महाशिवरात्रि के पावन दिन 21 लाख दियो से पूरी महाकाल नगरी जगमगा उठेगी।

वही बड़ी संख्या में श्रद्धालु मंदिर में दर्शन के लिए उमडेगे। महाशिवरात्रि पर महाकाल के दर्शन का प्लान महाकाल मंदिर समिति ने 1 मार्च को महाशिवरात्रि पर श्रद्धालुओं को महाकाल के दर्शन कराने की व्यवस्था की है। पिछले 2 सालों से कोरोना के कारण लगे प्रतिबंध के बाद इस साल ज्यादा श्रद्धालु आने की उम्मीद है। इसके लिए प्रशासन मास्टर प्लान बनाया है। प्लान में श्रद्धालुओं को ज्यादा पैदल ना चलना पड़े इसके लिए पार्किंग से गंगा गार्डन तक निशुल्क ई-रिक्शा रहेंगे। श्रद्धालुओं के लिए 700 से अधिक होटल तैयार किए गए हैं। मंदिर के आसपास करीब 400 छोटे-बड़े होटल कारोबारियों ने भी तैयार कर दिए हैं, सभी होटल मे डबल बेड कमरों का किराया 700 रुपए से लेकर 1000 रुपए के बीच है। होटल के एडवांस बुकिंग स्टार्ट हो चुकी है।

This image has an empty alt attribute; its file name is hum045.jpg

मंदिर समिति द्वारा 250 रुपए का टिकट लेकर श्रद्धालु शीघ्र दर्शन का लाभ ले सकते हैं। मंदिर का सबसे ज्यादा बिकने वाला शुद्ध लड्डू प्रसादी की डिमांड साल भर रहती है। चिंतामण मंदिर के पास लड्डू यूनिट के लिए रोजाना 25 क्विंटल तैयार होकर मंदिर पहुंचता है। महा शिवरात्रि के लिए 100 क्विंटल लड्डू बनाए गए हैं इसकी तैयारी 4 दिन पहले से शुरू कर दी गई थी। महाशिवरात्रि पर कई वीआईपी भी आएंगे। प्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान उनकी पत्नी साधना सिंह और पूर्व मंत्री उमा भारती समेत बड़े नेता यहां पहुंचेंगे। दर्शन के लिए सुरक्षा की दृष्टि से श्रद्धालुओं की सुरक्षा में 1200 पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे, इसमें चार एडिशनल एसपी डीएसपी, सीएसपी, टीआई सहित अन्य पुलिसकर्मी शामिल है। मंडी समिति ने चार जगह पार्किंग व्यवस्था की है। कलेक्टर आशीष सिंह ने बताया कि महाशिवरात्रि पर डेढ़ लाख से ज्यादा श्रद्धालु आने की उम्मीद है। इंदौर, देवास, नागदा और बडनगर से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए तर्क राजमंदिर में पार्किंग रखी गई है। यहां से श्रद्धालु पैदल गंगा गार्डन तक पहुंचेंगे, जहां जूते स्टैंड पर लॉकर फैसिलिटी मिलेंगे। पास ही के रास्ते में चार धाम मंदिर तक श्रद्धालु पहुंच सकेंगे।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here