मुलताई – उत्कृष्ट विद्यालय की भूमि पर स्थित नगर का एकमात्र खेल मैदान अपनी  बिगड़ती स्थिति पर आंसू बहाता प्रतीत होता है। नगर पालिका की जिस स्थान पर सुविधाजनक खेल मैदान बनेने की जवाबदेही थी ,वह बीते एक दशक में निर्माण पूर्ण तो नहीं करा पाई किंतु निर्माणाधीन  खेल मैदान का व्यवसायिक उपयोग कर रही  है।

नगर पालिका ने वर्तमान समय में इस मिनी स्टेडियम को 2000 महीना किराए से सीवर लाइन ठेकेदार को मजदूरों के रहने के लिए दे दिया है। जिससे खेल ग्राउंड की स्थिति सुधारने के बजाय बिगड़ने लगी है। नगर का एकमात्र खेल मैदान बीते एक दशक से निर्माण प्रक्रिया से गुजर रहा है।  एक दशक पूर्व हाई स्कूल ग्राउंड पर मिनी स्टेडियम बनाने के लिए ,राशि स्वीकृत हुई थी जिसका भूमि पूजन तत्कालीन संस्कृति मंत्री तुकोजीराव पवार द्वारा किया गया था और इसके लिए नगर पालिका को एजेंसी बनाया गया था, किंतु तत्कालीन ठेकेदार आधा अधूरा कार्य छोड़ कर के चला गया तब से यह मिनी स्टेडियम का कार्य अधर में लटका हुआ है। इसके उपरांत नगर पालिका ने पुणे मिनी स्टेडियम का निर्माण कार्य  2019 में 38 लाख रुपए लागत से स्वीकृत किए जो अब तक पूर्ण नहीं हो सके हैं, एक दशक बाद वर्तमान स्थिति तक मिनी स्टेडियम का  निर्माण कार्य पूर्ण नहीं हो पाया है।

This image has an empty alt attribute; its file name is BTL-30-7-21-341.jpg

स्टेडियम के 8 कमरे और मैदान का किराया 2000 महीना

निर्माण एजेंसी नगरपालिका जिसका कार्य हाई स्कूल ग्राउंड को व्यवस्थित मिनी स्टेडियम में बदलना है, निर्माण कार्य समय सीमा में गुणवत्ता पूर्ण कराना है इसके बजाय नगर पालिका ग्राउंड एवं बनाए गए कमरों का व्यवसायिक उपयोग करने लगी है।

इससे पूर्व नगरपालिका ने मीना बाजार वालों को कोरोना कॉल के दौरान स्टेडियम मैदान एवं कमरे उपयोग के लिए दिए थे। 6 महीने से अधिक होने के बाद मिनी स्टेडियम के आठ कमरे ,सीवर लाइन ठेकेदार को किराए से दे दिए गए, जिसमें ठेकेदार अपने मजदूरों को रख रहा है बड़ा प्रश्न यह है कि ₹2000 मासिक पर जहां एक कमरा मिलना दूभर है, वहीं आठ कमरे और ग्राउंड उपयोग के लिए नगरपालिका ठेकेदार को कैसे दे सकती है।

This image has an empty alt attribute; its file name is aslam0168.jpg

खेल एवं युवा कल्याण विभाग की संपत्ति है खेल मैदान

उक्त खेल मैदान पूर्व में जहां हाई स्कूल की संपत्ति था, वर्तमान समय में खेल एवं युवक कल्याण विभाग को भूमि हस्तांतरित कर दी गई है। वर्तमान समय में नगर पालिका  मात्र मिनी स्टेडियम निर्माण एजेंसी है , निर्माण एजेंसी मिनी स्टेडियम का व्यवसायिक उपयोग कैसे कर सकती है।  व्यवसायिक उपयोग के कारण, ग्राउंड की स्थिति दिन पर दिन बदतर होते जा रही है। बीते 7 माह से ,हाई स्कूल ग्राउंड पर मीना बाजार लगाने वालो ने कब्जा कर रखा था। ग्राउंड में जगह-जगह गड्ढे कर दिए गए थे, जो वैसे ही छोड़ दिए गए हैं सामान ले जाने के बाद संपूर्ण ग्राउंड  पर गंदगी का अंबार लगा हुआ है।

This image has an empty alt attribute; its file name is BTL-30-7-21-342.jpg


इनका कहना

सीवर लाइन  ठेकेदार को मिनी स्टेडियम के कमरे ₹2000 महीना मे किराए से दिए गए हैं, जो गंदगी की गई है उसे व्यवस्थित किया जाएगा।
नितिन कुमार बिजवे
नगर पालिका अधिकारी मुलताई

पूर्व में मिनी स्टेडियम की भूमि उत्कृष्ट विद्यालय के नाम थी ,जो वर्तमान में खेल एवं युवा कल्याण विभाग को हस्तांतरित कर दी गई।


महेश खत्री खेल शिक्षक उत्कृष्ट विद्यालय मुलताई

————————————————————————————————————

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here