मंडी बोर्ड कर्मचारी हड़ताल पर, कृषि मंडी हुई वीरान,

मंडी कर्मचारी हड़ताल का असर, सब्जी बाजार पर

मुलताई मॉडल एक्ट अध्यादेश के विरोध  मे मंडी बोर्ड के कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर है । और मंडियों में कामकाज बंद ,कृषि उपज मंडी समिति कर्मचारी संघ ने इस बंद का समर्थन करते हुए मंडी प्रांगण में अनिश्चितकालीन हड़ताल प्रारंभ कर दी है। कर्मचारी यह प्रदर्शन संयुक्त संघर्ष मोर्चे की मुलताई इकाई के तत्वाधान में कर रहे हैं। हड़ताल के चलते जहां किसानों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है वहीं आज मंडी प्रदर्शन का प्रभाव सब्जी बाजार पर भी दिखाई दिया सब्जियों के दामों में अचानक तेजी देखी गई।

This image has an empty alt attribute; its file name is BTL-5-9-20-343-1-1024x649.jpg

अध्यादेश से कर्मचारियों के आजीविका पर संकट

कर्मचारियों का मानना है कि नए मॉडल एक्ट अध्यादेश का परिपालन होने से उनकी आजीविका पर संकट खड़ा हो जाएगा ,साथ ही मंडी के बाहर खरीदी बिक्री होने से मंडी की आय समाप्त हो जाएगी। जिसके कारण 3 सितंबर से मुलताई कृषि मंडी प्रांगण में कर्मचारियों द्वारा अनिश्चितकालीन हड़ताल प्रारंभ की गई है । मंडियों में विपणन कार्य बंद है। जिसके कारण किसानों को समस्या का सामना करना पड़ रहा है । 

This image has an empty alt attribute; its file name is BTL-5-9-20-341-1024x614.jpg

हड़ताल से किसान  परेशान

क्षेत्र के समस्त फल सब्जी व्यापारीयो ने  भी इस हड़ताल का समर्थन करते हुए मोर्चे की मांगों का निराकरण न होने तक मुलताई मंडी में फल सब्जियों की नीलामी एवं कार्यालय कार्य बंद होने की सूचना मंडी सचिव मुलताई को दी है । हमाल संघ अध्यक्ष ने भी इस बंद को अपना समर्थन दिया है। 

This image has an empty alt attribute; its file name is BTL-5-9-20-342-1024x699.jpg

कर्मचारियों के वेतन भत्ते पेंशन होंगे प्रभावित

मिथिलेश अहाके सहायक उप निरीक्षक मंडी मुलताई ने बताया कि हम यह आंदोलन संयुक्त मोर्चे के आवाहन पर कर रहे हैं। सरकार जो नया अध्यादेश लाई हैं। उसमें मंडी की आय प्रभावित होगी, जिससे मंडी कर्मचारियों के वेतन भत्ते, पेंशन भी प्रभावित होंगे। और हमारी आजीविका संकट में आ जाएगी ।इसलिए जब तलक सरकार कर्मचारियों के भविष्य को लेकर स्पष्ट नीति का निर्धारण नहीं करती , आंदोलन जारी रहेगा, तुला भाटी यूनियन के अध्यक्ष आशीष देशमुख ने बताया कि कोरोना सर्वाधिक प्रभाव तुलावटी और हमालो क्या जीविका पर पड़ा है मंडी बंद होने के कारण उनके परिवार

प्रदर्शन में भाग लेने वालों में विनय बाबू आर्य, योगेश प्रतेती, राजेंद्र कुमार बर्डे, श्रीमती संगीता गायकवाड, रमेश वीईके, तुलाराम  सिरश्याम, अजब राव महाले ,शिवराम बर्थडे आदि।

—————————————————————————————————————————————————————-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here